Yogi Adityanath Solves Matter Through Twitter – पड़ोसी से तंग बेटियों ने किया योगी को ट्वीट, पुलिस ने तुरंत लिया एक्शन



Yogi Adityanath Solves Matter Through Twitter

योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री पद पर बैठते ही उत्तर प्रदेश की पुलिस अधिक चौकन्नी हो गई है. कानपुर में पड़ोसी की गुंडागर्दी तंग आकर एक परिवार ने मुख्यमंत्री को ट्वीट किया और पुलिस तुरंत हरकत में आ गई. एक हफ्ते तक परिवार की फरियाद किसी ने नहीं सुनी थी लेकिन अब आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू हो गई है.
मामला क्या है?
कल्याणपुर क्षेत्र के अम्बेडकरपुरम में रहने वाले बुद्धरतन गौतम हार्डवेयर कारोबारी है. बुद्धरतन के परिवार में उनकी पत्नी,चार बेटियां और एक बेटा है. 13 मार्च को होली वाले दिन पड़ोस का रहने वाले सुजीत कुमार गौतम और उसके बेटे रोहन गौतम ने नशे की हालात में बुद्धरतन के परिवार को भद्दी-भद्दी गालियां दी और विरोध करने पर पूरे परिवार को लाठी और धारदार हथियार से जमकर पिटाई कर दी. पूरा तमाशा आसपास के लोगों ने देखा लेकिन दबंग का विरोध नहीं कर पाए. घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस भी मामले की लीपापोती करती नजर आई. होली के चलते सिपाही खुद पीड़ित परिवार पर समझौते का दबाव बनाने लगे.

$(document).ready(function(){
$.ajax({
url:’/jw_player/video-script_article.php’,
type:’GET’,
data:{id:”961427″},
success: function(data) {
$(‘#videoplayer_961427’).html(data);
},
error:function(){
console.log(‘Something went wrong …Please try after sometime.’)
}
});
});

ट्वीट के बाद क्या हुआ ?
बुद्धरतन गौतम की बेटी द्वारा मुख्यमंत्री से सुरक्षा की गुहार लगाने के बाद आखिरकार कानपुर पुलिस जागी. पुलिस ने देर रात पीड़ित परिवार के मुखिया बुद्ध रतन गौतम  से मिलकर उन्हें सुरक्षा का अश्वासन दिया है और साथ ही शादी वाले दिन भी सुरक्षा देने की बात कही है. इस मामले में देर शाम एसपी पश्चिम सचिंदर पटेल ने सुरक्षा मुहैया कराए जाने की बात कही है. पुलिस अब लापरवाही की जांच और कार्रवाई का भी भरोसा दे रही है. गुंडागर्दी के शिकार इस परिवार को अब उम्मीद है कि योगी की सरकार में उन्हें न्याय जरूर मिलेगा.
आदित्यनाथ की कानून व्यवस्था
शपथ लेने के बाद ही योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था को लेकर अफसरों को कड़ी हिदायत दी है. खासकर महिलाओं की सुरक्षा को लेकर योगी सरकार ने कोई समझौता नहीं करने का आदेश दिया है.