Chandigarh City News Conflict Occured During Election Campaign In Punjab – पंजाब चुनाव के दौरान उपजे इन विवादों को नहीं भूल पाएंगे आप



Chandigarh City News Conflict Occured During Election Campaign In Punjab

पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए चार फरवरी को वोट पड़े थे. 11 मार्च को नतीजे आने हैं. प्रचार के दौरान कई विवाद उपजे. कई पार्टियों को जनता का विरोध का सामना करना पड़ा तो कई नेताओं की जुबान फिसली. यही नहीं कुछ नेताओं पर ये आरोप लगे कि वो शराब पीकर जनसभा करने पहुंचे और जनसभा के दौरान कई बार नशे में लुढ़क गए. चुनाव अभियान  के दौरान उपजे ये पांच विवाद कुछ ऐसे हैं जिनकी चर्चा खूब रही.
पंजाब के सीएम पर फेंका गया था जूता

पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए चार फरवरी को मतदान हुआ था. 11 मार्च को चुनाव नतीजे आने वाले हैं. चुनाव अभियान के दौरान कई विवाद उपजे. कई पार्टियों को जनता का विरोध का सामना करना पड़ा तो कई नेताओं की जुबान फिसली. यहीं नहीं कुछ नेताओं पर ये आरोप लगे कि वो शराब पीकर जनसभा करने पहुंचे और जनसभा के दौरान कई बार नशे में लुढ़क गए. चुनाव अभियान उपजे ये पांच विवाद इस प्रकार से हैं.

पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल 11 जनवरी को लंबी विधानसभा सीट के रत्ता खेड़ा में एक चुनावी कार्यक्रम में शामिल हुए थे.  तभी उन पर जूता फेंका गया. जूता एक सुरक्षाकर्मी से टकराकर मुख्यमंत्री के सिर में जा लगा. जूता फेंकने वाले को सुरक्षाकर्मियों ने फौरन ही गिरफ्तार कर लिया. पकड़ा गया शख्स नजदीक के गांव का रहने वाला गुरबचन सिंह बताया गया. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस घटना से साबित होता है कि उनके विरोधी बाजी हार चुके हैं और वो शांतिपूर्ण, स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव प्रक्रिया को खत्म करना चाहते हैं.
पंजाब के उपमुख्यमंत्री की फिसली जुबान
जलालाबाद में जनसभा को संबोधति करते हुए पंजाब के उमुख्यमंत्री सुखबीर बादल की जुबान फिसल गई. सुखबीर ने इस दौरान कहा पंजाब में तीनों पार्टियों में सबसे बुरी पार्टी अकाली दल है. हालांकि बाद में उन्होंने अपनी गलती को सुधार लिया. (‘वड्डी गल्ल मैं तुहानू दसां, सब तों माड़ी पार्टी तिह्नां चों, अकाली दल… कांग्रेस ते ओ आप ऐ.’)
सांसद भगवंत मान पर लगे शराब पीकर जनसभा में पहुंचने के आरोप
आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान पर मोगा की पुरानी अनाज मंडी में हुई जनसभा में शराब पीकर पहुंचने के आरोप लगे. मान जब बोलने के लिए उठे तो 5 मिनट तक ऑडियंस को फ्लाइंग किस ही देते रहे. फिर लड़खड़ाकर गिर गए.  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पूर्व सहयोगी प्रशांत भूषण ने मान पर तीखा हमला किया. उन्होने ट्वीटर पर एक निजी अखबार की फोटो पोस्ट कर लिखा कि आप के स्टार प्रचारक अपनी ही चुनाव सभा में नशे में टुल्ल होकर पहुंचे.
सुखबीर बादल के काफिले पर हमला
9 जनवरी को जलालाबाद के कंदवाल गांव में डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह बादल के काफिले पर कुछ लोगों ने पथराव कर दिया. सुखबीर और संबंधित अधिकारियों की गाड़ियां तेजी से आगे निकलने के कारण बच गये, लेकिन उनके समर्थकों की गाड़ियों में लोगों ने तोड़-फोड़ की. इसमें चार लोग जख्मी हो गए थे.
मनीष सिसौदिया ने केजरीवाल को बताया पंजाब का सीएम
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया 10 जनवरी को मोहाली में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे. उन्होंने इस दौरान कहा कि पंजाब के मतदाता ये मानकर वोट करें कि अरविंद केजरीवाल को मुख्यमंत्री बनाना है. सिसौदिया ने दावा किया कि पंजाब में ‘आप’ की धूम मची हुई है और यहां के लोग क्रांतिकारी बदलाव लाने वाले हैं. इस बयान के बाद आम आदमी पार्टी में काफी गहमा-गहमी हो गई. इसी बीच अरविंद केजरीवाल ने बयान दिया कि पंजाब का ही कोई नेता यहां का सीएम होगा.